बिहार के मुज़फ़्फ़रपुर और उत्तर प्रदेश के देवरिया में बच्चियों के साथ हुए दुष्कर्म मामले को लेकर आध्यात्मिक गुरु आचार्य प्रमोद कृष्णम ने बीजेपी पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि इन मामलों पर हंगामा इसलिए नहीं हो रहा क्योंकि दोनों ही सूबों में बीजेपी की सरकार है।

उन्होंने ट्वीट कर लिखा, “मुज़फ़्फ़रपुर और देवरिया जैसा कांड अगर अखिलेश या तेजस्वी के राज में होता,तो सड़क से लेकर संसद तक हाहाकार मच जाता, लेकिन यहाँ तो मंत्री से लेकर संतरी तक सभी संस्कारवान पार्टी के अपने लोग हैं, तो फिर मुँह खोलने से क्या फ़ायदा”।

इससे पहले राहुल गांधी ने इन मामलों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चुप्पी पर सवाल खड़े किए। उन्होंने कहा कि पीएम ‍मोदी सब चीजों पर बोलते हैं लेकिन महिलाओं के ख़िलाफ हो रहे अत्याचार पर एक शब्द नहीं बोलते। उत्तर प्रदेश और बिहार में महिलाओं और बच्चियों के साथ इतनी बड़ी घटना हो गई लेकिन उन्होंने अभी तक एक शब्द नहीं बोला।

बता दें कि मुजफ्फरपुर शेल्टर होम की तरह ही देवरिया नारी संरक्षण गृह में भी देह व्यापार कराए जाने का खुलासा हुआ है। संरक्षण गृह से भागी एक बालिका ने रविवार शाम को इस बारे में जानकारी दी। रात में पुलिस ने छापा मारा तो संरक्षण गृह से 18 लड़कियां गायब मिलीं। पुलिस ने संचालिका और उसके पति को गिरफ्तार कर लिया।