देश की आज़ादी के लिए अंग्रेजी हुकूमत को ललकारने में अगस्त का महिना आते ही आज़ादी महसूस करने लगता है। महात्मा गांधी ने अंग्रेजों को भारत से निकालने के लिए कई अहिंसक आंदोलनों का नेतृत्व किया और 8 अगस्त 1942 को उन्होंने भारत छोड़ो आंदोलन की शुरुआत की। अंग्रेजों भारत छोड़ो का नारा 9 अगस्त को दिया गया था। जिसके बाद सन 1947, 15 अगस्त को अंग्रेजों को देश छोड़कर जाना पड़ा।

भारत छोड़ो आंदोलन को पीएम मोदी से लेकर राष्ट्रपति कोविंद याद कर रहे है। वहीँ समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज के दिन नया नारा दिया है। अखिलेश ने मौजूदा हालात को देखते हुए ‘नफ़रत छोड़ो आंदोलन’ शुरू करने की बात कहीं है।

अखिलेश ने लिखा आज का दिन ‘भारत छोड़ो आंदोलन’ के उन सच्चे शहीदों को नमन व याद करने का है, जिन्होंने सच्ची देशभक्ति दिखाते हुए इस आंदोलन में सक्रिय भूमिका निभायी थी। आज फिर देश की एकता और सौहार्द के लिए ख़तरा बनी विघटनकारी ताक़तों के ख़िलाफ़ हम सबको ‘नफ़रत छोड़ो आंदोलन’ शुरू करना होगा।