मध्य प्रदेश में हुए नगरपालिका और नगर पंचायत के उपचुनाव में बीजेपी को करारा झटका लगा है। स्थानीय चुनावों में सत्तारूढ़ बीजेपी की हार के साथ ही कांग्रेस का डंका बजा है। कांग्रेस ने 14 में से 9 सीटों पर जीत हासिल कर आगामी विधानमभा चुनावों के लिए अपने इरादे स्पष्ट कर दिए हैं। वहीं भाजपा के हाथ महज़ 4 सीटें लगीं तो 1 पर निर्दलीय का कब्ज़ा रहा।

प्रदेश के 11 जिलों के नगर पालिकाओं के 12 वार्ड में उपचुनाव हुए थे। जानकारी के मुताबिक, भोपाल बैरसिया नगर पालिका वार्ड नंबर 13 उपचुनाव कांग्रेस की भाग्यश्री चंचल खत्री ने भाजपा के राधेश्याम शिल्पकार को 598 वोट से हराया। कांग्रेस की भाग्यश्री चंचल खत्री को 767 वोट और राधेश्याम शिल्पकार को 169 वोट मिले।

ग्वालियर/डबरा नगर पालिका पार्षद उपचुनाव कांग्रेस की रानी रावत 22 मतों से जीत हासिल की है। रानी रावत को 1102 भाजपा की अनीता प्रजापति को 1080 मत मिले। नीमच सरवानिया महाराज नगर परिषद के वार्ड उपचुनाव में कांग्रेस 2 मतों से विजय हुईं।

सिंगरौली में नगर निगम वार्ड 35 में कांग्रेस को 251 वोट तथा भाजपा को 201 वोट प्राप्त हुए। इसमें कांग्रेस ने 50 वोटों से जीत हासिल की। इसी तरह सतना नगर निगम वार्ड नंबर 10 के चुनाव में भी कांग्रेस 940 से जीत हासिल की है।

इंदौर की प्रतिष्ठित सीट राऊ विधानसभा क्षेत्र में जिला पंचायत के वार्ड 3 का नतीजा सबसे चौंकाने वाला आया है। यहां उप चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी जीतू ठाकुर 2294 वोट से जीते। तमाम बड़े नेताओं और संगठन की मजबूत ताकत के बावजूद राऊ विधानसभा क्षेत्र के जिला पंचायत वार्ड 3 के उपचुनाव में भाजपा को हार का सामना करना पड़ा।

इसके पहले भी होशंगाबाद ज़िले के पंचमढ़ी कॉन्टोनमेंट बोर्ड में हुए चुनाव के नतीजे भी कांग्रेस के पक्ष में रहे थे। पार्टी ने सात में से छह सीटें जीत ली थीं। पार्टी के लिए इन छोटी-छोटी जीत के बड़े मायने हैं, क्योंकि कांग्रेस इस राज्य में 2003 से लौटने के सपने देख रही है। ये जीत अक्टूबर-नवंबर महीनों में होने वाले विधानसभा चुनावों के पहले कांग्रेस के लिए राहत की ख़बर है।

वहीं, लगातार उपचुनावों में हार का सामना कर रही बीजेपी के लिए ये चिंता का विषय है क्योंकि सिर्फ विधनसभा ही नहीं बल्कि लोकसभा के लिहाज़ से भी ये बहुत बड़ा राज्य है। बता दें कि राज्य में लंबे समय से बीजेपी का कब्ज़ा है। पिछले आम चुनाव पार्टी ने राज्य की सभी 29 लोकसभा सीटों में पूरे पर जीत दर्ज की थी।