बीजेपी के खिलाफ़ प्रदर्शन के वीडियो के साथ एक बार फिर छेड़छाड़ का मामला सामने आया है। अब इलाहाबाद में बीजेपी चीफ़ अमित शाह को काले झंडे दिखाए जाने वाले वीडियो को टेम्पर्ड करके उसमें पाकिस्तान ज़िन्दाबाद के नारे डाले गए हैं।

दरअसल, हाल ही में इलाहाबाद में अमित शाह के काफिले का कुछ छात्राओं ने विरोध करते हुए काले झंडे दिखाए थे और अमित शाह वापस जाओ के नारे लगाए थे। छात्रों द्वारा किए गए इस विरोध प्रदर्शन का वीडियो भी सामने आया था। वीडियो के सामने आने के बाद सूबे की पुलिस और बीजेपी सरकार की जमकर किरकिरी हुई थी। लोगों ने इस मामले में सरकार और पुलिस की कार्रवाई पर सवाल खड़े किए थे।

अब इस मामले को दबाने के लिए वीडियो को एडिट कर इसे नया रंग दिया जा रहा है। वीडियो को एडिट कर दिखाया जा रहा है कि विरोध करने वाली छात्राओं नें पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए थे। इस खबर को तेजी से फेसबुक और वॉट्सएप ग्रुप्स पर फॉरवर्ड किया जा रहा है।

इस वीडियो को देखकर शुरुआत में यहीं लगता है कि ये लड़कियां पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगा रही हैं। लेकिन असल में ऐसा है नहीं। वहां पर मौजूद चश्मदीदों और ओरिजनल वीडियो के मुताबिक, लड़कियां “अमित शाह मुर्दाबाद” और “अमित शाह वापस जाओ” के नारे लगा रही थीं, जिसे तोड़ मरोड़ कर सोशल मीडिया पर वायरल किया जा रहा है।

हैरानी की बात तो यह है कि सोशल मीडिया पर लोग  एडिटेड वीडियो को ही सही मानते हुए छात्राओं को बुरा-भला कह रहे हैं। आशीष कुमार तारवे ने अपनी फेसबुक वॉल पर लिखा, “इसने अमित शाह का विरोध किया वो अलग बात है लेकिन इस लड़की ने पाकिस्तान ज़िन्दाबाद क्यों बोला ये गलत बात है”।

बीजेपी के विरोध वाले वीडियो के साथ छेड़छाड़ का यह कोई पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी जेएनयू कांड के वीडियो और राहुल गांधी के आलू मशीन वाले वीडियो के साथ छेड़छेड़ का मामला सामने आ चुका है।