देश में एक तरफ जहां गोरक्षकों के आतंक देख रहा है। वहीँ दूसरी तरफ अब इसके नाम पर पैसे भी वसूले जाने लगे है। ताजा मामला हरियाणा के फरीदाबाद का है जहां पुलिस ने दो ऐसे फर्जी गोरक्षों को पकड़ा है जो बड़े व्यापारी को डरा कर 50 लाख की उगाही करने के फ़िराक में थे। मगर इससे पहले दोनों को पुलिस ने पकड़ लिया। दोनों खुद को एक ही गोरक्षक दल के सदस्य बता रहे थे।

दरअसल फरीदाबाद क्राइम ब्रांच से दो व्यापारियों ने शिकायत की उन्हें कोई अनजान शख्स 50 लाख की मांग कर रहा है। व्यापारी ने बताया कि दोनों ने खुद को गोरक्षा दल का सदस्य बता रहे है। क्राइम ब्रांच ने इस मामले में फुर्ती दिखाते हुए दोनों युवक राहुल और शशि को गिरफ्तार कर लिया। पकडे जाने के बाद दोनों ने बताया कि उन्होंने एक मोबाइल छीना हुआ था जोकि अनिल नाम के शख्स के नाम पर है।

पुलिस ने इस मामले की जांच की तो पता चल कि ये वही मोबाइल है जिससे व्यापारी को धमकी दी जा रही थी इसके बाद पुलिस ने पहले अनिल पकड़ा फिर उसने जब अपना जुर्म कुबूल किया उसे अपने दोनों दोस्तों के नाम बताये। पुलिस को अनिल ने बताया कि वो लोग एक गोरक्षक दल से जुड़े हुए है अब पुलिस इस मामले की जांच में लगी है इस जबरन पैसे उगाही के पीछे और कितने लोग जुड़े हुए है।

पुलिस के अनुसार ये गोरक्षक दल व्यापारियों को गोतस्करी के नाम पर किस तरह बेकसूर लोगों को निशाना बनाने की जुगत में थे। अब ऐसे गोरक्षा के नाम पर जब रंगदारी मांगी जा रही है तो कल्पना की जा सकती है की गोरक्षक दल कितनी गाय की रक्षा करता होगा और कितनी उसके नाम पर पैसे की उगाही करता होगा।