पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री एवं टीएमसी सुप्रीमो ममता बनर्जी ने एक बार फिर बीजेपी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। उन्होंने आगामी स्वतंत्रता दिवस यानी 15 अगस्त से ‘बीजेपी हटाओ, देश बचाओ’ अभियान शुरू करने का ऐलान किया है।

बीजेपी के खिलाफ इस अभियान को शुरु करने का ऐलान ममता ने शहीद दिवस के मौके पर एक जनसभा को संबोधित करते हुए किया। इस अभियान का लक्ष्य 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को शिकस्त देना है।

ममता बनर्जी ने कहा कि उनका अभियान बीजेपी के लिए बड़ा झटका साबित होगा और बंगाल में लोकसभा चुनाव का रास्ता साफ करेगा। उन्होंने हाल ही में पीएम मोदी की रैली में गिरे पंडाल के संदर्भ में कहा कि जो कायदे से एक पंडाल नहीं बना सकते। वह देश को बनाना चाहते हैं।

मॉब लिंचिंग को लेकर बीजेपी पर निशाना साधते हुए टीएमसी प्रमुख ने कहा कि वह लोगों के बीच तालिबानी पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं। भारतीय जनता पार्टी में कुछ अच्छे लोग भी हैं जिनकी मैं बहुत इज्जत करती हूं लेकिन कुछ ऐसे भी हैं जो गंदा खेल खेलने का काम कर रहे हैं।

बता दें कि आज के दिन (21 जुलाई) को टीएमसी शहीद दिवस के तौर पर मना रही है। इस दिन 13 कांग्रेस कार्यकर्ताओं को श्रद्धांजलि दी गई। साल 1993 में पुलिस फायरिंग के दौरान इन कार्यकर्ताओं की मौत हो गई थी। उस समय राज्य में वामपंथियों का शासन था।