यूपी के चरखारी से बीजेपी विधायक बृजभूषण राजपूत ने देश के मुसलमानों को धमकी दी है। विधायक ने कहा है कि अगर अयोध्या में राममंदिर निर्माण की राह में मुस्लिम आड़े आते हैं तो वह मुस्लिमों को मक्का-मदीना नहीं जाने देंगे।

फेसबुक लाइव के ज़रिए बीजेपी विधायक ने मुसलमानों के ख़िलाफ़ ज़हर उगलते हुए कहा कि मुस्लिम समुदाय को राम मंदिर के मुद्दे को लेकर देश के 100 करोड़ हिंदुओं की भावनाओं का सम्मान करना चाहिए। अगर वे ऐसा नहीं करते हैं, तो हम उनकी भावनाओं का भी सम्मान नहीं करेंगे।

राजपूत ने कहा, “यदि मुसलमान राम मंदिर के निर्माण में बाधा डालते हैं या रोकते हैं, तो उनकी हज यात्रा को भी रोका जाएगा।” इसके साथ ही बीजेपी विधायक ने यह मांग भी की कि मुसलमानों की अल्पसंख्यक स्थिति को निरस्त किया जाना चाहिए और हज यात्रा पर दी गई सब्सिडी को खत्म कर दिया जाना चाहिए।

बीजेपी विधायक ने कहा कि भारत मुसलमानों का देश नहीं है। बंटवारे के वक्त मुसलमानों को पाकिस्तान दे दिया गया था और हिंदुओं को भारत दिया गया था, इसलिए भारत हिंदुओं का देश है। राजपूत ने कहा कि अगर हिंदू मुसलमानों को यहां से भगाने पर आ गया तो इस देश में कोई भी मुसलमान नहीं रह पाएगा।

इस वीडियो के सामने आने के बाद जब राजपूत से इसके बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि वह अपने बयान पर क़ायम हैं। अगर मुसलमान इसे धमकी के तौर पर ले रहे हैं तो लेने दीजिए। मैंने वीडियो में जो कहा है, उसपर पूरी तरह से कायम हूं।

ग़ौरतलब है कि अगले साल लोकसभा चुनाव होने हैं, जिसके मद्देनज़र राम मंदिर का मुद्दा एक बार फिर सुर्खियों में है। बीजेपी ने केंद्र की सत्ता में आने से पहले वादा किया था कि वह सत्ता में आने के बाद राम मंदिर का निर्माण कराएगी। लेकिन चार बीत जाने के बाद भी मंदिर निर्माण का कार्य शुरु नहीं हुआ है।

ऐसे में बीजेपी इस तरह के बयानों का सहारा लेकर माहौल बनाने की कोशिश कर रही है। इससे पहले अभी हाल ही में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने लोकसभा से पहले राम मंदिर निर्माण के कार्य को शुरु करने की बात कही थी। हालांकि बाद में उन्होंने अपने बयान को वापस ले लिया था।