प्रधानमंत्री मोदी के लिए पाकिस्तान अपना एयरस्पेस नहीं खोलेगा। इस बारें में खुद पाकिस्तान ने अधिकारिक घोषणा करते हुए कहा कि हिंदुस्तान से दरख्वास्त आई थी कि हिंदुस्तान के वज़ीर-ए-आज़म नरेंद्र मोदी पाकिस्तान के एयर स्पेस से होकर जर्मनी जाना चाह रहे थे। कश्मीर के हालात को देखते हुए हमने फ़ैसला किया है कि हम इसकी इजाज़त नहीं देंगे।

दरअसल पीएम मोदी 21 सितंबर को अमरीका के दौरे पर जा रहें है। जहां वो राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ 22 सितंबर को ह्यूस्टन में ‘हाउडी मोदी’ कार्यक्रम में शामिल होंगे। इसी दौरे के लिए पाकिस्तान ने अपने एयरस्पेस से गुजरने की अनुमति नहीं दी है।

15 दिनों से पाकिस्तान और इमरान से दंगल कर रहा है आज तक, मंदी-बेरोजगारी पर नहीं कर रहा सवाल

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद क़ुरैशी ने भारतीय उच्चायोग को अवगत कराया है कि नरेंद्र मोदी की उड़ान के लिए हम अपने हवाई क्षेत्र की इजाज़त नहीं देंगे।

उन्होंने कहा कि पीएम मोदी के लिए 20 सितंबर को जर्मनी जाने और 28 सितंबर को वापसी के लिए भारत ने पाकिस्तानी से हवाई क्षेत्र के इस्तेमाल की अनुमति मांगी थी लेकिन हमने नहीं दी।

उद्योगपति बोले- साइकिलें भी नहीं बिक रही, लोग बोले- हिंदू-मुसलमान तो बिक रहा है ना?

इस मामले पर अब विपक्षी नेताओं ने प्रधानमंत्री मोदी पर ही कटाक्ष करना शुरू कर दिया है। विधायक अलका लाम्बा ने सोशल मीडिया पर लिखा- पाकिस्तान को निवेदन भेजने से पहले देश की इज्ज़त का तो थोड़ा सा खयाल रखा होता। समय की कहाँ कमी थी, समय ही समय तो है प्रधानमंत्री मोदी जी के पास, 2/3 घंटे ज़्यादा लग भी जाते तो क्या फ़र्क पड़ जाता? देश नहीं झुकने दूँगा???

बता दें कि कश्मीर में धारा 370 हटने के बाद से पाकिस्तान ने कई मौकों पर भारत का विरोध करता हुआ नज़र आया है। इससे पहले भी पाकिस्तान ने भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को पाकिस्तान एयरस्पेस इस्तेमाल करने की अनुमति नहीं दी थी। हालाकिं प्रधानमंत्री मोदी जब जी7 सबमिट में हिस्सा लेने पहुंचे तब उन्हें पाकिस्तान ने एयरस्पेस इस्तेमाल करने की इजाजत दे दी थी।