योगीराज में BJP नेता ही बेटियों के लिए सबसे बड़ा खतरा बन गए हैं। यहां आए दिन बेटियों की असमत बीजेपी नेता तार-तार करते नज़र आते हैं और प्रशासन उनके संरक्षण में। ताज़ा मामला राजधानी लखनऊ (Lucknow) से सामने आया है। जहां बीजेपी नेता प्रदीप कुमार गुप्ता पर रेप का आरोप लगाने वाली लड़की ने खुदकुशी कर ली।

पीड़िता की खुदकुशी के बाद हालांकि पुलिस ने आरोपी बीजेपी नेता को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। बताया जा रहा है कि पीड़िता ने खुदकुशी इसलिए की क्योंकि पुलिस बेजेपी नेता के खिलाफ उसकी शिकायत को नहीं सुन रही थी। वह अपनी शिकायत को लेकर लंबे समय से थानों के चक्कर काट रही थी। लेकिन पुलिस ने इस मामले को दबाए रखा। जिससे परेशान होकर पीड़िता ने 23 अक्टूबर को ज़हर खा लिया।

NCRB रिपोर्ट : एक साल में 28 हजार लोगों की हत्या, योगी का ‘रामराज्य’ बना अपराध में नंबर वन

हालत बिगड़ने पर परिवारीजनों ने उसे राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया था। वहां इलाज के दौरान अगले दिन उसकी मौत हो गई थी। रेप पीड़ित के जहर खाकर जान देने की सूचना जब पुलिस को मिली तो उसे आखिरकार बीजेपी नेता के खिलाफ कार्रवाई करनी पड़ी।

एएसपी नॉर्थ सुकीर्ति माधव ने रेप के आरोपी भाजपा नेता प्रदीप कुमार गुप्ता की गिरफ्तारी के लिए दो टीमें गठित कीं। देर रात पुलिस टीम कन्नौज के सकरावा गांव स्थित प्रदीप के घर पहुंची और उसे गिरफ्तार कर लिया।

गोदी पत्रकारों को कमलेश की माँ ने लगाई फटकार, कहा- मोदी-मोदी करना बंद करें, मोदी भगवान नहीं हैं

पुलिस (UP Police) ने बताया कि लखनऊ निवासी 15 साल की किशोरी ने 27 जुलाई 2019 को प्रदीप गुप्ता के खिलाफ 18 अगस्त 2017 से कई बार दुष्कर्म करने, उसकी अश्लील फोटो व वीडियो बनाकर मोबाइल में रिकार्ड करने का आरोप लगाकर गोमती नगर थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी।

रिपोर्ट दर्ज होने के बाद से पीड़िता आरोपी की गिरफ्तारी व न्याय पाने के लिए लगातार भटकती रही थी। इंसाफ नहीं मिला तो उसने 23 अक्तूबर को जहर खा लिया।