एक तरफ कमलेश तिवारी की हत्या को योगी सरकार और पूरा प्रशासन आईएसआईएस से तार जोड़ने में लगा हुआ है। लेकिन कमलेश के परिवार वाले एक सुर में बीजेपी नेता पर हत्या का आरोप लगाते हुए योगी सरकार को कठघरे में खड़ा कर रहे हैं।

इसी कड़ी में कमलेश तिवारी की मां कुसुम तिवारी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और भाजपा सरकार के बारे में कहा कि, “हिन्दू की सरकार में मेरे बेटे को मार डाले योगी। तुम्हारी (योगी आदित्यनाथ) सरकार में कोई मारकर चला गया जबकि सपा की अखिलेश यादव सरकार में कोई कमलेश का बाल भी बांका नहीं कर पाया।”

दरअसल 2015 में कमलेश तिवारी ने पैगंबर मुहम्मद के बारे में आपतिजनक टिपण्णी की थी। इस बयान के बाद कमलेश की पूरे देश में विरोध हुआ था। बाद में उसपर रासुका भी लगी और वो जेल गया। तब से ही कमलेश की जान को खतरा था। लेकिन 2017 में योगी आदित्यनाथ की अगुवाई में भाजपा की सरकार बनी।

सरकर बदलने के बाद कमलेश ने योगी सरकार से अपनी सुरक्षा की मांग की थी। यही वजह है कि योगी सरकार में सुरक्षा मांगने के बाद भी कमलेश तिवारी की हत्या हो गई और उनकी मां योगी को दोषी ठहरा रही हैं।

कमलेश की मां ने आगे कहा कि, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर आरोप लगते हुए कहा कि, “योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) और बीजेपी ने अपने राजनीतिक स्वार्थ के लिए उनके बेटे को मरवा दिया। उन्होंने कहा कि कमलेश तिवारी के चलते योगी और बीजेपी की दाल नहीं गल रही थी इसलिए एक बीजेपी नेता के जरिए मेरे बेटे की हत्या करवाई।“

वहीं मृतक कमलेश तिवारी (Kamlesh Tiwari) के बेटे सत्यम तिवारी ने आज शनिवार को कहा है कि, ”हमें प्रशासन पर भरोसा नहीं है। NIA से जांच करवाई जाए। ऐसा ना हो निर्दोष लोगों को फँसाया जा रहा है।”