संसद में मोदी सरकार ने माना है कि रेलवे में 2 लाख 22 हजार से ज्यादा पड़ खाली पड़े हैं।

सांसद मोहम्मद सलीम के सवाल का जवाब देते हुए जैसे ही सरकार ने जवाब दिया और आंकड़े रखे, मोदी सरकार की पोल खुल गई कि लाखों पदों के खाली होने के बावजूद नई भर्ती नहीं कर रहे।

इसपर सोशल मीडिया पर प्रतिक्रियाएं भी आने लगी।

जानकारी साझा करते हुए लक्ष्मण यादव ने सांसद मोहम्मद सलीम और पत्रकार रवीश कुमार का शुक्रिया भी अदा किया।

उन्होंने लिखा-

सांसद मोहम्मद सलीम, कि आपके सवाल के जवाब में रेल मंत्री ने बताया कि कुल 2 लाख 22 हज़ार से ज्यादा पद खाली हैं। हैं तो और भी ज्यादा लेकिन चलो पहली बार माना तो कि लाखों पद खाली हैं, फिर भी नहीं भरते। पकौड़ा का ज़िक्र नहीं ही करेंगे।

याद आ रहा है कि दो साल पहले जब हम लोग बेरोज़गारी के खिलाफ़ लगातार तमाम जोखिम उठाकर सैकड़ों RTI लगाकर पूछा कि कितने पद खाली हैं, तब बहकाया रेलवे ने। कुछ सैंपल आप भी देखें। हमारी तमाम RTI बेकार के जवाबों से पटी हैं।

हमने कैटेगरी के अलग अलग आँकड़ों को अपनी RTI में सवाल किया, तो सामान्यतः यही दिखा कि तीन चौथाई से ज्यादा आरक्षित वर्ग के पद खाली हैं। यानी वंचितों-शोषितों पर कितना भारी ज़ुल्म हो रहा है। उनके लिए यह कितना भयावह है, कल्पना कीजिए।

हम तब बेरोज़गारी को लेकर लड़ रहे थे, जब कहीं यह मुद्दा नहीं था। कितनी खुशी है कि आज पूरे देश के युवा मान रहे हैं कि उनकी सबसे बड़ी समस्या बेरोज़गारी है। और लाखों पदों पर नियुक्ति तुरंत हो। और युवाओं को तबाह किया जाना बंद हो। अब जागे हैं, बढ़िया।

बाकी रवीश कुमार का क्या ही शुक्रिया कहें, बस इतना कि लगे रहो गुरू, सलाम आपको….

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here