मेनस्ट्रीम मीडिया के एंकर्स अब खुलकर सत्तारूढ़ पार्टी के लिए बैंटिंग करते नज़र आ रहे हैं। वह सरकार चलाने वाली पार्टी के नेताओं को काबिल दिखाने के लिए विपक्षी दल के नेताओं को नाकारा साबित करने में जुट गए हैं।

सोशल मीडिया पर आजतक की एंकर अंजना ओम कश्यप का एक वीडियो सामने आया है। जिसमें वो कह रही हैं कि, ‘ये शिवसेना का राहुल गांधी साबित होगा’, लिखके रख लीजिए।‘ उनका इशारा शिवसेना के नेता एवं उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य ठाकरे की तरफ़ था। अंजना के इस जुमले से ही इस बात का अंदाज़ा लगाया जा सकता है कि वह क्या कहना चाहती हैं।

दरअसल, आदित्य ठाकरे इंडिया टुडे कॉन्क्लेव में हिस्सा लेने पहुंचे थे। जब ये खबर आजतक चैनल पर चलाई गई तो चैनलों में पीसीआर की टीम ने अंजना का माइक ऑन रखा और आदित्य का ऑडियो पीछे चलने लगा। इस वीडियो में अंजना किसी से ये कहते हुए नज़र आ रही कि ये (आदित्य ठाकरे) शिवसेना का राहुल गांधी साबित होगा, लिखकर रख लीजिए।

अंजना पर भड़कीं प्रियंका, कहा- कौन क्या होगा ये वक्त बताएगा, लेकिन आप भाड़े की टट्टू साबित हो चुकी हैं

ये ऑडियो-वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद अब अंजना कश्यप पर लोग भाजपाई होने की बात कह रहे हैं। ट्वीटर पर एक अकाउंट से लिखा गया है कि, “भाजपा की मुख्य प्रवक्ता अंजना ओम कश्यप ने ऑन एयर आदित्य ठाकरे के बारे में कहा कि ये शिवसेना का राहुल गांधी साबित होगा। चलो आदित्य ठाकरे तो भविष्य में साबित होगा, लेकिन तुम तो पिछले 5 साल से खुद बीजेपी प्रवक्ता साबित हो चुकी हो बस अब रैली और सभा करना बाकी है।”

पहली बात तो कांग्रेस नेता राहुल गांधी और शिवसेना नेता आदित्य ठाकरे दोनों अलग-अलग विचारधाराओं के नेता है। अब ऐसे में जब आदित्य से सवाल किया गया कि क्या वो चुनाव लड़ेंगे तो उन्होंने कहा कि मैं ज़िम्मेदारी से भाग नहीं रहा है जहां ज़रूरत पड़ेगी तो मैं चुनाव लडूंगा। आदित्य के इसी बयान पर अंजना ने उनकी तुलना राहुल गांधी से की।

शो के दौरान अंजना ने आदित्य ठाकरे के बारे में कहा- ये शिवसेना का ‘राहुल गांधी’ साबित होगा

अब इससे अंदाज़ा लगाया जा सकता है कि मीडिया में बड़ी डिबेट करने वाले एंकर्स एक पार्टी के नेता को किस नज़र से देखते है। क्योंकि शिवसेना और कांग्रेस दोनों ही दलों पर परिवारवाद को लेकर निशाना साधा जाता है। क्या ये मीडिया की नफरत है जो राहुल गांधी को एक कमजोर नेता के रूप में पेश करती है।