यूं तो यूपी में भ्रष्टाचार चरम पर है चाहे वह महिलाओं, बेटियों की आबरू की सुरक्षा को लेकर हो या फिर सांप्रदायिक दंगा भड़काने को लेकर हो।

लेकिन अभी तक इन आरोपों को सत्ताधारी यह कहकर खारिज कर देते की यह विपक्ष का काम है। लेकिन अब सत्ता के ही लोगों में भ्रष्टाचार को लेकर खलबली मचाने वाली खबर सामने आई है।

यूपी के मुरादाबाद में बीजेपी के ही नेता पिछले 1 महीने से एसएसपी ऑफिस के सामने लगातार धरना दे रहे हैं।

बीजेपी नेता लगातार या कह रहे हैं कि उनकी बेटी का अपहरण हुआ है। बीजेपी नेता यही नहीं रुके उन्होंने कई बड़े नेताओं से मदद की गुहार लगाई लेकिन पार्टी में किसी ने भी उनकी एक बार नहीं सुनी ना ही कोई भी उनकी मदद के लिए आगे आया।

अब घटना ने नया रूप ले लिया है कि सपा के ही लोग बीजेपी नेता की बेटी के अपहरण के मामले में हो रहे धरना प्रदर्शन में खुलकर साथ दे रहे हैं और बीजेपी नेता की बेटी के अपहरण के मुद्दे को न्याय दिलाने की गुहार लगा रहे हैं कि

जो सदस्य 1 महीने से लगातार एसएसपी ऑफिस के सामने अपनी बेटी के अपहरण की गुहार लगा रहा है और न्याय की मांग कर रहा है उसे न्याय मिलना चाहिए।

सवाल तो यह उठता है कि क्या योगी के राज में उनकी ही पार्टी के लोगों की बेटियों के अपहरण होंगे और लगातार पार्टी के बड़े नेताओं से मदद मांगने और धरना प्रदर्शन के बावजूद भी उन्हें न्याय नहीं मिलेगा?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here