कमलेश तिवारी हत्याकांड में पुलिस द्वारा की जारी गिरफ्तारियों पर कमलेश की माँ कुसुमा देवी ने सवाल खड़े कर दिए हैं। उनका कहना है कि पुलिस इस मामले में लगातार निर्दोष लोगों को गिरफ्तार कर रही है।

वाराणसी में मीडिया से बात करते हुए कुसुमा देवी ने कमलेश तिवारी हत्याकांड में पुलिस की कार्रवाई को गुमराह करने वाला बताया। उन्होंने कहा कि इस मामले में पुलिस सुबह-शाम जिन लोगों को गिरफ्तार कर रही है, वह निर्दोष हैं। पुलिस असली आरोपी को छोड़कर निर्दोष लोगों को निशाना बना रही है।

ABP एंकर से कमलेश की माँ ने कहा- हिंदू-मुस्लिम करना बंद करें, हिम्मत है तो सरकार से सवाल करें

बता दें कि कमलेश तिवारी हत्याकांड में यूपी पुलिस अब तक 5 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। पुलिस का दावा है कि गिरफ्तार किए गए सभी आरोपी हत्या के साज़िशकर्ता हैं। हत्यारोपियों को पकड़ने के लिए एसआईटी की टीमें कई राज्यों की पुलिस से संपर्क में हैं। लेकिन अभी तक हत्या को अंजाम देने वाले पुलिस की पहुंच से दूर हैं।

पुलिस का दावा है कि कमलेश की हत्या उनके 2015 के भड़काऊ बयान की वजह से की गई। लेकिन कमलेश के परिजनों की मानें तो हत्या ज़मीनी विवाद को लेकर की गई। कमलेश के परिजनों ने इस मामले में बीजेपी नेता शिवकुमार गुप्ता को मुख्य आरोपी बताया है।

कमलेश तिवारी की मां बोलीं- योगी के इशारे पर BJP नेता शिवकुमार गुप्ता ने की मेरे बेटे की हत्या

परिजनों का कहना है कि कमलेश का शिवकुमार से मंदिर के पास की एक ज़मीन को लेकर विवाद चल रहा था। इसी विवाद के चलते शिवकुमार ने हत्या से 10 दिन पहले कमलेश को जान से मारने की धमकी दी थी। लेकिन इन आरोपों के बावजूद शिवकुमार पुलिस की गिरफ्त से दूर हैं।

यही नहीं, घटना के दिन लखनऊ के एसएसपी ने भी सबसे पहले आपसी रंज़िश की वजह से ही हत्या की आशंका जताई थी लेकिन उसके बाद से भी पुलिस की जांच कमलेश तिवारी के पांच साल पुराने बयान और उसके बाद उन्हें मिली धमकी के इर्द-गिर्द चल रही है। डीजीपी ओपी सिंह ने तो ले इसके पीछे पहले आतंकी साज़िश तक की बात कह डाली थी। हालांकि बाद में उन्होंने ऐसी किसी भी संभावना से इनकार कर दिया।