मुझे नहीं पता कि यह जो कुछ भी हो रहा है वह सही है या गलत, मैं अब भी इस चीज को समझने की कोशिश कर रहा हूं। मैं आधा कश्मीरी हूं। मेरा परिवार श्रीनगर में है, जिनसे मैं दो दिन से संपर्क बनाने की कोशिश कर रहा हूं।

मैं केवल यह जानना चाहता हूं कि क्या वे ठीक हैं। अगर आपमें से कुछ लोगों को ऐसा लगता है कि अपने परिवार के बारे में सोचकर मैं राष्ट्र विरोधी हो रहा हूं तो आप मुझे यह बोल सकते हैं।

इंदिरा ने ‘पाक’ के दो टुकड़े किए और मोदी ने अपने ही कश्मीर के दो टुकड़े कर दिए : नगमा

यहां मैं आर्मी ऑफिसर्स के परिवार के लिए भी ट्वीट कर रहा हूं। मेरे कुछ भाई-बहन भी आर्मी में हैं। ऐसे समय में हमें पहले इंसान बनने की ज्यादा जरूरत है। चलो, कश्मीर के लोगों की आवाजें भी सुनी जाएं।

ये बयान अभिनेता साकिब सलीम का है जिन्होंने कश्मीर के मौजूदा हालत पर अपनी चिंता व्यक्त की है। बॉम्बे टॉकीज और रेस 3 जैसी फिल्मों में काम कर चुके है सलीम ने जो चिंता व्यक्त की है वो हर भारतीय के ज़ेहन में चल रही है।

गिरती अर्थव्यवस्था से ध्यान हटाने के लिए कश्मीर का मुद्दा उठाया गयाः साक्षी जोशी

बता दें कि राज्यसभा में जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल पास होने के मंगलवार को चर्चा के लिए लोकसभा में रखा गया। गृहमंत्री अमित शाह ने जम्मू कश्मीर में विशेष अधिकार देने वाला धारा 370 खत्म करने का संकल्प भी पेश किया। सोमवार को उच्च सदन से और फिर मंगलवार को लोकसभा में इस बिल को पास कर दिया था।