chandrayaan 2, ISRO, deepak chaurasia, vikram lander – बीती रात 12 बजे के बाद देशवासी बेसब्री से लैंडर विक्रम के चांद की धरती को चूमने और खुशी में झूमने का इंतजार कर रहे थे। मगर सफलता मिल नहीं पाई और चांद पर उतर रहे लैंडर विक्रम (vikram lander) से संपर्क टूट गया। मगर इस दौरान कुछ ऐसे पत्रकार सामने आए जो स्टूडियो से ही चाँद पर पहुँचने की तैयारी कर चुके थे।

देश के तमाम न्यूज़ चैनल स्टूडियो में बैठे बैठे अंतरिक्ष पहुँच चुके थे। वो बता रहें थे कि कैसे चांद पर उतर रहे लैंडर विक्रम उतरने वाला है। मगर उससे पहले ही नाटकीय अंदाज़ में नज़र आने वाले पत्रकार कम एंकर सब स्पेस सूट पहनकर जो तैयार थे भले ही संपर्क टूटने से भारत का सपना पूरा नहीं हो पाया मगर देश के एंकर तो बेशर्मी से चंद पर पहुँच भी गए थे।

पत्रकार दीपक चौरसिया (deepak chaurasia) भी इसी जमात में खड़े नज़र आए उन्होंने एक कदम आगे जाते हुए स्पेस सूट ही पहन लिया और खबर देने की जगह खुद ही खबर बन गए। इसमें कोई शक नहीं है कि ये देश के एक बहुत बड़ा पल था। मगर जिस तरह का प्रदर्शन टीवी स्टूडियो में बैठे एंकरों ने दिखाया वो बेहद शर्मनाक था।

ख़बरें पेश करना उसे अलग अंदाज़ में बताना अलग बात होती है मगर स्पेस सूट पहनकर इसरो की मेहनत का मजाक बनाया जाना अपने आप में शर्मनाक है। इस मामले पर निर्देशक अनुभव सिन्हा ने सोशल मीडिया पर अपनी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने दीपक चौरसिया की फोटो शेयर करते हुए लिखा वीभत्स है ये चित्र। पत्रकारिता की क्रूरतम हत्या के उपरांत उसका नंगा शव।

बता दें कि भारत के चंद्र मिशन को शनिवार तड़के उस समय झटका लगा, जब लैंडर विक्रम से चंद्रमा के सतह से महज दो किलोमीटर पहले इसरो का संपर्क टूट गया। चंद्रयान-2  मिशन की कुल लागत 978 करोड़ रुपये बताई जाती है।