सीबीआई डायरेक्टर राकेश अस्थाना के सहयोगी को सीबीआई ने गिरफ्तार कर लिया। सीबीआई के डिप्टी एसपी देवेन्द्र कुमार को मोईन कुरैशी से संबधों के चलते गिरफ्तार किया गया है। जिस मामले में देवेन्द्र की गिरफ़्तारी हुई उसमें सबसे पहला नाम राकेश अस्थाना का है और दूसरे नंबर पर देवेन्द्र का नाम है।

इस मामले को बढ़ता देख पीएम मोदी ने सीबीआई के चीफ और डिप्टी चीफ को समन किया है। इस मुलाकात पर पत्रकार स्वाति चतुर्वेदी ने सवाल खड़े किये हैं।

उन्होंने सोशल मीडिया पर लिखा- अस्थाना आज प्रधानमंत्री कार्यकाल आज क्यों गए ? वो करप्शन केस में आरोपी नंबर वन हैं , इन्हें ससपेंड किया जाय और गिरफ्तार किया जाय।

गौरतलब हो कि सीबीआई में नंबर दो अफसर स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना के खिलाफ रिश्वतखोरी के मामले में FIR दर्ज की गई है, वहीं दूसरी तरफ अस्थाना ने सीबीआई के नंबर एक डायरेक्टर अलोक वर्मा के खिलाफ कई मामलों में करोड़ रूपये के रिश्वत लेने से जुडी शिकायत कैबिनेट सचिव को भेजी है।

वहीं इस मामले में एक कदम आगे बढ़ते हुए राकेश अस्थाना की गिरफ़्तारी होने से दो अफसरों की लड़ाई आमने सामने आ गई है। राकेश अस्थाना के ख़िलाफ़ एफ़आईआर हैदराबाद के एक बिज़नेसमैन सतीश बाबू सना की शिकायत पर दर्ज हुई है। सतीश बाबू ने आरोप लगाया है कि उन्होंने अपने ख़िलाफ़ जांच रोकने के लिए तीन करोड़ रुपयों की रिश्वत दी। एफ़आईआर में आस्थाना के ख़िलाफ़ साज़िश और भ्रष्टाचार का आरोप लगाया गया है।

Your Donation
Details