नीतीश कुमार की सरकार में बिहार के चूहों पर बड़े बड़े आरोप लगे हैं। सुशासन बाबू के शासन में चूहे कुख्यात हो चुके हैं। कभी चूहे 8 लाख लीटर शराब पी जाते हैं, कभी नवजात की हत्या कर देते हैं।

जी हां, इस बार चूहों पर नवजात बच्चे की हत्या का आरोप लगा है। मामला दरभंगा अस्पताल के शिशु रोग विभाग का है, जहां 8 दिन के बच्चे को चूहों ने कुतर दिया। बच्चे की मौत हो चुकी है।

परिजनों का आरोप है कि अस्पताल की लापरवाही की वजह से नवजात की जान गई है। पीड़ित परिजन ने लापरवाही बरतने वाले डॉक्टर पर उचित कानूनी कार्रवाई की मांग की है।

इलाज के दौरान मरीज का कटा पैर ले भागा कुत्ता, तेजस्वी बोले- बिहार को शर्मसार कर रहे हैं नीतीश

पीड़ित परिवार मधुबनी जिले के पंडौल का रहने वाला है। पैदा होने के बाद से बच्चा इस अस्पताल में भर्ती था। जब हालत खराब हुई तो एनआईसीयू भर्ती कराया गया। और एनआईसीयू में ही चूहों ने नवजात के हाथ और पैर की अंगुलियों को निवाला बना लिया।

अस्पताल प्रशासन ने अपनी इस लापरवाही को पूरी बेशर्मी से स्वीकार किया है। उनका कहना है कि पूरा अस्पताल ही चूहों से परेशान है।