प्रतीकात्मक तस्वीर

सोशल मीडिया पर पोस्ट लिखना क्या कभी इतना ख़तरनाक हो सकता है कि किसी की जान चली जाए! नफरत और हिंसा के इस दौर में कुछ भी संभव है।

महाराष्ट्र में कांग्रेस के एक कार्यकर्ता मनोज दुबे को चाकुओं से गोदकर मार डाला गया क्योंकि उसने लिखा था – अगले लोकसभा चुनाव में कांग्रेस ही सरकार बनाएगी।

बीजेपी और बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने पहले पोस्ट हटाने की धमकी दी फिर पोस्ट न हटाने पर उसपर हमला बोल दिया। इस मामले में पुलिस ने बीजेपी के सुनील दुबे, आकाश शर्मा और उमेश सिंह को गिरफ्तार किया है।

दरअसल कांग्रेस कार्यकर्ता मनोज उर्फ़ पप्पू ने फेसबुक पर पोस्ट लिखा था कि 2019 में लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की सरकार बनेगी।

इस पोस्ट पर बीजेपी के कार्यकर्ताओं से उनका विवाद हो गया था।

परिजनों की मानें तो बीजेपी और बजरंग दल कार्यकर्ताओं ने पहले इस पोस्ट पर अभद्र टिप्पणी की, उसके बाद मनोज से जमकर बहस भी हुई।

अगर रेल हादसे के लिए कांग्रेस ज़िम्मेदार है तो गोरखपुर ट्रेजडी और वाराणसी पुल हादसे के लिए कौन?

बीजेपी और बजरंग दल के लोगों ने तलवार से हमला कर दिया, आनन-फानन में मनोज को अस्पताल भर्ती कराया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

परिवार वालों की शिकायत पर पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। इस मामले में एक बीजेपी नेता को गिरफ्तार कर लिया गया।

मनोज की हत्या पर महाराष्ट्र कांग्रेस ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि- हम ऐसे कायराना हरकत की पुरजोर तरीके से निंदा करते हैं। अपराधी को सजा होनी चाहिए। हम इस दुःख की इस घड़ी में परिवार के साथ हैं।