रोजगार के पटल पर देश और यहाँ के युवा भयंकर बेरोजगारी की मार झेल रहे हैं। आलम यह है कि एक ‘डी ग्रुप’ की नौकरी पाने के लिए लाखों युवा कतार में खड़े हैं।

केंद्र सरकार लगातार सरकारी नौकरियों में कटौती करने के साथ-साथ जॉब की बहाली नहीं कर रही है जिसकी वजह से युवा बेरोजगार की मार झेल रहे हैं और हिंदुस्तान में बेरोजगारी विकराल रूप ले रही है।

कांग्रेस नेता जीतू पटवारी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को रोजगार देने में विफल बताते हुए उनपर जमकर हमला किया है। जीतू ने ट्वीट करके कहा कि

“देश में बढ़ती बेरोज़गारी के आंकडे अब सार्वजनिक नही होंगे? युवाओं को रोजगार देने में विफल सरकार अब इस तरह से दामन बचायेगी? मोदी जी, युवाओं के भविष्य से खेलना बंद कीजिये, कुछ कर नही सकते तो विदा लीजिये।”

कांग्रेस विधायक जीतू ने अपने दूसरे ट्वीट में नीरव मोदी और पीएम मोदी के संबंधों को लेकर कहा कि “भारत के 31 बैंक प्रमुखों से पूछताछ होगी? “नीरव मोदी” और “मेहुल चौकसी” के साथ घनिष्ठता की तस्वीरें पीएम मोदी की आती हैं,

और पूछताछ बैंक प्रमुखों से होगी? वो विदेशों में “डंका” बजाने का अभिनय करता रहा, और देश में बैंकों के सर पर “डंडे” बज गये।”

उधर त्रिपुरा में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनने के बाद राज्य के ज्यादातर हिस्सों में हिंसक वारदात हुई है, जिसको लेकर जीतू ने कहा कि “त्रिपुरा में भाजपा की जीत के साथ ही 14 जिलों में हिंसक वारदात की ख़बरें है, कई जिलों में कर्फ़्यू और धारा 144 लागू है।

आगत की आहट, त्रिपुरा के अंजाम का अफ़साना कह रही है? राज्य में फैली हिंसा के बाद भाजपा सरकार पर सवालिया निशान लगने लगे हैं।

त्रिपुरा में बीजेपी की सरकार बनने के बाद हिंसक वारदातों से राज्य में तनाव की स्थिती बनी हुई है। जीतू पटवारी ने कहा कि “त्रिपुरा में भाजपा पहली ऐसी सरकार बना रही है जिसके शपथ-ग्रहण के पहले ही बर्ख़ास्तगी और राष्ट्रपति शासन की अटकलें लगने लगी है।

क्या चुनावी जीत किसी भी दल को निरंकुशता और अराजकता की अनुमति देती है?”

अमित शाह ने कहा था नोटबंदी का लाभ आगे चलकर दिखेगा..। — लो ! गोवा से नोटबंदी का लाभ दिखना शुरू हुआ और मणिपुर, बिहार के बाद अब मेघालय में भी दिखा..? नोटबंदी से समृद्ध हुई बटुआ लुटुआ पार्टी सरेआम लोकतंत्र खरीद रही है..?

Your Donation
Details