महाराष्ट्र के कई जिले इस समय बाढ़ की चपेट में हैं। सांगली और कोल्हापुर जिले सबसे ज्यादा बाढ़ से प्रभावित हैं। लगातार हो रही बारिश से लोगों का जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। बाढ़ के कारण अबतक राज्य में 29 लोगों की मौत हो चुकी है। लेकिन इस मुसीबत की घड़ी में भी महाराष्ट्र सरकार के मंत्री ज़रा भी गंभीर नज़र नहीं आ रहे, वह डिजास्टर टूरिज्म करते देखे जा रहे हैं।

दरअसल, महाराष्ट्र के जल संसाधन मंत्री गिरीश महाजन बाढ़ प्रभावित जिले सांगली का दौरा करने निकले थे। लेकिन वह एनडीआरएफ की नाव पर सवार होकर जैसे ही पानी के बीच पहुंचे तो मोबाइल फोन निकालकर मुस्कुराते हुए सेल्फी का लुत्फ उठाने लगे। उनकी इस असंवेधनशील हरकत का वीडियो भी सामने आया है।

वीडियो में देखा जा सकता है कि विधायक महाजन एनडीआरएफ की नाव पर सवार हैं। इस दौरान वह मुस्कुरा रहे हैं और मोबाइल से सेल्फी ले रहे हैं। गिरीश महाजन की दो सेल्फी वीडियो क्लिप सामने आने के बाद विवादों में घिर गए।

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) अध्यक्ष राज ठाकरे इस मामले को लेकर मंत्री गिरीश महाजन और मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि एक मुख्यमंत्री जमीनी हकीकत जानने के लिए हेलिकॉप्टर से बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा कर रहे हैं, और वहीं मंत्री बाढ़ के बीच सेल्फी ले रहे हैं।

वहीं राकांपा नेता धनन्जय मुंडे ने वीडियो को शेयर करते हुए ट्वीट किया, ‘मंत्री गिरीश महाजन और अधिकारी मुस्कुरा रहे थे और उन्होंने सेल्फी वीडियो बनाई। क्या सत्तारूढ़ नेताओं में कोई संवेदनशीलता बची है? देवेंद्र फडणवीस जी, इस असंवेदनशील मंत्री का इस्तीफा लीजिए, संबंधित अधिकारियों को निलंबित कीजिए।’

मुंडे ने बाढ़ में एक बच्चे की मौत पर शोक जताते हुए महाजन से सवाल किया कि उन्हें स्थिति के प्रति अपने दृष्टिकोण को लेकर क्या शर्म नहीं आती? महाराष्ट्र के कई हिस्सों, खासकर सांगली और कोल्हापुर जिलों में पिछले एक सप्ताह से भयानक बाढ़ आई हुई है।