एक तरफ SBI द्वारा 220 डिफाल्टरों के 76,600 करोड़ रुपये के बैड लोन को राइट ऑफ कर दिया गया है। दूसरी तरफ पंजाब एंड महाराष्ट्र कोऑपरेटिव (PMC) बैंक पर प्रतिबंध के बाद खाताधारक परेशान हैं। उनका रो-रो कर बुरा हाल है, बैंक शाखा के बाहर अपने पैसे पाने के लिए खाताधारकों की रोज़ाना भारी भीड़ इकट्ठा हो रही है।

इसी पर कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने मोदी सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने डिफाल्टरों के कर्ज़े को माफ़ करने और PMC बैंक लगे प्रतिबंध पर सरकार पर सवाल उठाते हुए ट्वीट किया है।

RTI: अमीरों के 76 हजार करोड़ लोन माफ़, प्रियंका बोलीं- किसान होते तो लोनमाफी नहीं जेल हो जाती

प्रियंका ने एक वीडियो शेयर करते हुए लिखा- ये आम लोगों का दर्द है। PMC बैंक में पैसे रखने वालों के चेहरे पर मेहनत की कमाई डूबने की पीड़ा साफ दिख रही है। एक तरफ सरकार अमीरों का 76000 करोड़ का लोन माफ कर रही है, वहीं पीएमसी के ग्राहकों को अपने ही पैसों के लिए सड़कों पर भटकना पड़ रहा हैं। घोटालेबाज मजे में और आम जनता परेशान।

इससे पहले प्रियंका ने अपने दूसरे ट्वीट में लिखा था- “किसानों को जेल में डाला जा रहा है। अर्थव्यवस्था (Economy) खस्ताहाल है, लोगों को नौकरी से निकाला जा रहा है। मुंबई में PMC बैंक से जुड़े लोग चीख रहे हैं। लेकिन भाजपा सरकार किसके लिए रेड कार्पेट बिछाते हुए 76,000 करोड़ के लोन माफ कर रही है? कौन ले गया ये पैसा?”

220 अमीरों के 76,000 करोड़ माफ, मोदीजी क्या यही लोग ‘देश’ हैं जिन्हें बचाना है ?

बता दे कि मोदी सरकार पर अर्थव्यवस्था को मज़बूत करने के बजाए कमज़ोर करने के आरोप लग रहे हैं। जहाँ एक तरफ देश की GDP की विकास दर गिर गयी है, तो वहीँ दूसरी तरफ सरकारी बैंक अमीर लोगों का कर्ज़ा माफ़ कर रहा है।

एक RTI के जवाब में सामने आया है कि एसबीआई (State Bank of India) ने 220 डिफाल्टरों के 76,600 करोड़ रुपये के बैड लोन को राइट ऑफ कर दिया है।