महाराष्ट्र नव निर्माण सेना (मनसे) के प्रमुख राज ठाकरे ने एक बार फिर इलेक्टॉनिक वोटिंग मशीन (EVM) के मुद्दे को उठाते हुए सत्तारूढ़ बीजेपी पर ज़ोरदार हमला बोला है। उन्होंने कहा कि बीजेपी के नेता कहते हैं कि वह चुनाव इसलिए नहीं हार सकते क्योंकि उनके पास ईवीएम है।

राज ठाकरे (Raj Thackeray) ने मुंबई में एक कार्यक्रम के दौरान कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि मुझे एक बीजेपी नेता ने बताया है कि सभी विरोधी पार्टियां एक साथ भी आ जाएं तब भी चुनाव हम ही जीतेंगे क्योंकि उनके (विपक्ष) पास ईवीएम नहीं है। ठाकरे ने कहा कि उन्होंने सोनिया गांधी और ममता बनर्जी से इस मुद्दे को लेकर मुलाकात की है। इन दोनों ने भी माना है कि गड़बड़ है। अगर ऐसे ही चलता रहा तो चुनाव लड़ने की जरूरत नहीं है।

इसके साथ ही जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने को लेकर भी राज ठाकरे ने केंद्र की मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर में मनमानी हो रही है, कल यही मनमानी मुंबई और विदर्भ के लिए भी होगी।

EVM मुद्दे पर ममता से मिलकर बोले राज ठाकरे- कोर्ट और EC से उम्मीद नहीं, अब आंदोलन से बनेगी बात

मनसे प्रमुख ने कहा कि केंद्र सरकार लोगों को आश्वासन दे रही है कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद अब वहां रोज़गार आएगा, लेकिन उत्तर प्रदेश में अनुच्छेद 370 नहीं है तो फिर भला वहां रोज़गार क्यों नहीं आया, महाराष्ट्र में भी अनुच्छेद 370 नहीं है लेकिन महाराष्ट्र में भी रोज़गार कम होता जा रहा है।

राज ठाकरे ने कहा कि मोदीराज में डर का माहौल है। लोगों की आवाज़ दबाई जा रही है। सरकार के खिलाफ लोग लिखना चाहते हैं, बोलना चाहते हैं पर डरते हैं। खबरें छपती नहीं है। एकाध चैनल या अखबार सरकार के खिलाफ लिख सकते हैं तो उन पर दबाव डाला जा रहा है।

गिरती अर्थव्यवस्था से ध्यान हटाने के लिए कश्मीर का मुद्दा उठाया गयाः साक्षी जोशी

आतंकवाद विरोधी कानून (UAPA) संशोधन बिल को लेकर भी राज ठाकरे ने मोदी सरकार को आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि अब एक भी व्यक्ति पर शक हुआ तो उसे आतंकवादी घोषित कर दिया जाएगा। यह अधिकार किसे मिल गया है अमित शाह को। कल किसी को भी जेल में डाल देंगे फिर मुकदमा लड़ते रहो। ये सब क्यों हो रहा है बहुमत की वजह से और बहुमत मिली है ईवीएम से।

देश की आर्थिक स्थिति पर चिंता व्यक्त करते हुए मनसे प्रमुख ने कहा कि देश आर्थिक संकट से गुज़र रहा है। जेट एयरवेज बंद हो गई है, एयर इंडिया नुकसान में है। बीएसएनएल में वेतन के लिए पैसे नहीं है, वाहन उद्योग में भारी मंदी है, बेकारी की तलवार लटक रही है।

Your Donation
Details