योगी सरकार में ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ नारे की धज्जियाँ उड़ाई जा रही है। ताजा मामला आगरा से है जहां दिन-दहाड़े दो बाइक सवार लड़कों ने 10वी में पढ़ने वाली छात्रा पर पेट्रोल डालकर उसे आग के हवाले कर दिया।

छात्रा बुरी तरह से झुलस गई, जिसके बाद उसे मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है।

घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। जिसमें लोग उससे नाम पूछते नज़र आ रहें है और पता लगा रहें है कि वो किस घर की है वो बता भी रही है।

स्कूल के कपड़ो में ज़मीन पर बैठी छात्रा की दर्दनाक तस्वीर ने योगी सरकार के उन सारे दावों की पोलकर रख दी है जिसमें यूपी के अपराध मुक्त होने की बात की जाती है। 

ये घटना मलपुरा क्षेत्र के लालऊ गांव की है। जब छात्रा अपने स्कूल से घर जा रही थी तभी रास्ते में दो बाइक सवार लोगों ने पेट्रोल डालकर उसे आग के हवाले कर दिया।

परिवार वालों के मुताबिक, उन दो युवकों का चेहरा नहीं देख पाए क्योंकि दोनों ने ही हेलमेट पहन रखा रहा था। छात्रा के परिवार का कहना है कि हमारी किसी से कोई दुश्मनी भी नहीं थी ऐसे में इस घटना किसने अंजाम दिया, इसका पता लगा पाना मुश्किल है।

साथ ही परिजनों ने आरोपियों की गिरफ़्तारी न होने की वजह से नाराज़गी जाहिर की है, सीएम योगी से इंसाफ करने की गुहार लगाई है।      

फिलाहल इस मामले पर आगरा एसएसपी अमित पाठक ने कहा कि हमला करने वाले हेलमेट में थे इसलिए अभी उनकी पहचान नहीं हो पाई है। मामले की जांच के लिए कई टीमों का गठन कर दिया गया हम जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लेंगें।