बीजेपी नेताओं द्वारा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के ह’त्यारे नाथूराम गोडसे का महिमामंडन किए जाने का सिलसिला जारी है। बीजेपी सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के बाद अब केंद्रीय संस्कृति मंत्री प्रह्लाद सिंह पटेल ने महात्मा गांधी के ह’त्यारे गोडसे को नमन किया है।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि वह नाथूराम गोडसे को नमन करते हैं और इसमें कुछ ग़लत नहीं है। दरअसल, गुरुवार को लोकसभा में केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद सिंह पटेल महात्मा गांधी की 150वीं जंयंती के मौके पर कार्यक्रमों के आयोजन के बारे में अपनी बात रख रहे थे। तभी कांग्रेस सांसद गौरव गोगोई ने कहा कि आप महात्मा गांधी की बात क्यों करते हैं, जबकि आपकी पार्टी के नेता महात्मा गांधी के ह’त्यारे को नमन करते हैं।

इसका जवाब देते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि हां हम गोडसे जी को नमन करते हैं। उन्होंने डंके की चोट पर कहा कि महात्मा गांधी के हत्यारे को नमन करने में कुछ ग़लत नहीं।

केंद्रीय मंत्री का ये बयान ऐसे समय में आया है जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ख़ुद महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के मौके पर पार्टी के सभी सांसदों को निर्देश दे रहे हैं कि वह अपने-अपने संसदीय क्षेत्रों में 150 किलोमीटर की पदयात्रा का आयोजन करें।

ऐसे में ये सवाल उठना लाज़मी है कि क्या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राष्ट्रपिता का अपमान करने वाले अपने मंत्री के ख़िलाफ़ कोई कार्रवाई करेंगे? हालांकि पिछले मामलों को देखते हुए तो इस बात की उम्मीद कम ही नज़र आती है।

इससे पहले जब लोकसभा चुनाव से पहले साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे का महिमामंडन किया था तो ऐसी उम्मीद की जा रही थी कि, उनके खिलाफ़ पार्टी सख़्त कार्रवाई करेगी। लेकिन ऐसा हुआ नहीं था। उन्हें न तो पार्टी से निकाला गया था और न ही चुनाव लड़ने से रोका गया था। बस पीएम मोदी ने बयान पर ऐतराज़ जताते हुए कहा था कि वह साध्वी प्रज्ञा को दिल से माफ़ नहीं करेंगे।